उमर ख़ालिद, मेरा बेटा: प्रो. अपूर्वानंद

***Translated from Apoorvanand Anand‘s ‘Umar Khalid, my son’: The Indian Express: February 23, 2016. (http://indianexpress.com/…/opin…/columns/umar-khalid-my-son/#)*** Translation: Kumar Unnayan उमर ख़ालिद, मेरा बेटा ______________________ ~~क्योंकि विद्रोही होना मानवता का नवीकरण और उसे अभिपुष्ट करना है~~ “उमर मेरा बेटा है”, मैं ऐसा कहना चाहता हूँ। मैं कभी उस से मिला नहीं और न ही उसे जानता हूँ।…